बिहार लोकसभा चुनाव के परिणाम रिकार्ड यादवों के नाम सबसे ज्यादा और सबसे कम - ApnaLive.News

बिहार लोकसभा चुनाव के परिणाम रिकार्ड यादवों के नाम सबसे ज्यादा और सबसे कम

Spread the love

2019 के लोकसभा चुनाव में बिहार के सभी 40 सीटों के चुनाव परिणाम आ चुके हैं। जिसमें एनडीए को 39 सीट पर जीत हासिल हुई है,एकमात्र किशनगंज से कांग्रेस प्रत्याशी डॉक्टर जावेद ने अपनी जीत हासिल कर महागठबंधन का खाता खोलने में सफल रहे है। पूरे चुनाव परिणाम में सबसे अधिक मतों से जीतने वाले मधुबनी लोकसभा क्षेत्र से भाजपा प्रत्याशी अशोक यादव हैं। जिन्होंने अपने निकटतम प्रतिद्वंदी वीआईपी पार्टी जो मुकेश साहनी की पार्टी है के प्रत्याशी बद्री पूर्वे को 454000 मतों से पराजित कर पूरे बिहार में सबसे अधिक मतों से जीतने वाले पहले प्रत्याशी हैं। वहीं दूसरी तरफ जहानाबाद लोकसभा क्षेत्र से राजद प्रत्याशी सुरेंद्र यादव सबसे कम मतों से हारने वाले पहले प्रत्याशी है। इन्होंने अपने निकटतम प्रतिद्वंदी जनता दल यूनाइटेड के उम्मीदवार चंदेश्वर चंद्रवंशी से मात्र 1112 मत से पराजित हुए हैं। जो बहुत ही दुखद हार मानी जाएगी। इस प्रकार दोनों प्रत्याशी एक जीत कर और एक हार कर अपना अपना पहला स्थान ग्रहण किया है। बिहार सहित हिंदुस्तान की सबसे हॉट सीट माने जाने वाली बेगूसराय जहां से भाजपा प्रत्याशी गिरिराज सिंह ने अपने निकटतम प्रतिद्वंदी सीपीआई प्रत्याशी कन्हैया कुमार को 420000 मतों से पराजित कर सबसे अधिक मतों से जीतने वाले दूसरे प्रत्याशी हैं। वहां महागठबंधन के राजद प्रत्याशी तनवीर हसन तीन नंबर पर चले गये है। मुजफ्फरपुर से भाजपा प्रत्याशी अजय निषाद अपने निकटतम प्रतिद्वंदी महागठबंधन वीआई पी के उम्मीदवार राज भूषण चौधरी को 407000 मतों से पराजित कर सबसे अधिक मतों से जीतने वाले में अपना तीसरा स्थान दर्ज कराया है। जहानाबाद को छोड़कर मात्र पांच ऐसे सीट हैं जहां जीत का अंतर एक लाख से नीचे हुआ है। वह क्षेत्र औरंगाबाद, काराकाट, कटिहार, किशनगंज और पाटलिपुत्र है। 100000 से डेढ़ लाख के बीच 6 सीटों का परिणाम घोषित हुआ है, जिनका नाम अररिया, आरा, बक्सर, मुंगेर, नवादा और सारण है। डेढ़ लाख से 200000 के बीच मात्र 3 सीटों का परिणाम सामने आया है, जिनके नाम सासाराम, गया और बांका है। सबसे अधिक 17 सीटों का परिणाम आया है जिनके बीच जीतों का अंतर 200000 से 300000 के बीच में है। उनके नाम भागलपुर, दरभंगा, गोपालगंज, हाजीपुर, जमुई, खगरिया, मधेपुरा, महाराजगंज, नालंदा, पटना साहिब, पूर्णिया, पूर्वी चंपारण, समस्तीपुर, सीतामढ़ी, सिवान, सुपौल और उजियारपुर है। तीन लाख से ऊपर और साढे तीन लाख के बीच जिन सीटों का परिणाम आया है वैसे मात्र पांच क्षेत्र हैं जिनके नाम बाल्मीकि नगर, वैशाली, शिवहर, पश्चिमी चंपारण और झंझारपुर है। अभी तक मिले आंकड़ों के अनुसार बिहार के सभी 40 सीटों का चुनाव परिणाम इसी प्रकार है।

Written by:-Navin singh

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

You may have missed